धुआंधार पारी से टी-20 सीरीज जिताने के बाद हार्दिक बोले- 5 मैच से बैट बदल-बदलकर खेल रहा हूं

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरा टी-20 जिताने के बाद हार्दिक ने कहा कि वे फिलहाल नए बैट की तलाश में हैं। उन्होंने कहा, 'ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में मेरा बैट टूट गया था। उस बैट का मैं 3 साल से इस्तेमाल कर रहा था। इसके बाद मैंने अभी तक खेले गए सभी 5 मैचों (3 वनडे, 2 टी-20) में कई बल्ले बदले और एक नया बल्ला ढूंढ रहा हूं।'

नटराजन ने टीम इंडिया को मैच जिताया

पंड्या ने कहा कि भारत ने ये मैच टी नटराजन की वजह से जीता है और उन्हें ही मैन ऑफ द मैच होना चाहिए था। पंड्या ने कहा, 'नटराजन ने मैच में शानदार बॉलिंग की। उनकी बॉलिंग की वजह से ऑस्ट्रेलिया ने 10 से 15 रन कम बनाए और हमें 10 से कम रन रेट का टारगेट मिला। जिसे हमने आसानी से चेज कर लिया। टारगेट चेज करना बेहद आसान है। मैं स्कोरकार्ड देखकर खेलना पसंद करता हूं। इससे आपको पता चलता है कि आपको किस तरह के शॉट्स खेलने हैं।'

उन्होंने कहा, 'मैं नटराजन से काफी प्रभावित हूं। वे चीजों को उलझाते नहीं हैं। मुझे इस तरह के लोग पसंद हैं। अगर उन्हें कहा जाता है कि नट्टु आपको यॉर्कर फेंकना है, तो वे सिर्फ यॉर्कर ही फेकेंगे। अगर उन्हें स्लो बॉल डालने कहा जाता है, तो वे स्लो बॉल ही डालते हैं। वे हमारे लिए शानदार गेंदबाज साबित हुए हैं। अगर आप चीजों को सिंपल रखते हैं, तो इसमें आपकी ही भलाई है।'

बड़े टारगेट से डर नहीं, सोचने से ज्यादा करने में विश्वास

पंड्या ने कहा, 'मैंने अपने सभी मैचों में यह अनुभव किया है कि टी-20 में आप जितना सोचते हो उससे ज्यादा समय आपके पास होता है। मुझे इसका कोई फर्क नहीं पड़ता की टारगेट क्या है। हमने पहले भी अंत के पांच ओवरों में 80-90 रन बनाए हैं और मुझे इससे आत्मविश्वास मिला।'

लॉकडाउन में मैच जिताने पर फोकस किया

पंड्या ने कहा, 'लॉकडाउन के दौरान मैंने बड़े स्कोर बनाने की जगह मैच जिताने पर फोकस किया। इससे फर्क नहीं पड़ता कि मैं बड़ा स्कोर करूं या नहीं। मैंने पहले भी इस तरह के माहौल में मैच खेला है और पहले की गई गलतियों से सीखा है। मेरा गेम मेरे आत्मविश्वास पर टिका है। मैं कोशिश करता हूं कि खुद को कूल रखूं और अति आत्मविश्वास में ना आऊं।'

वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज

पंड्या ने अभी तक ऑस्ट्रेलिया टूर पर कई शानदार पारी खेली है। वे वनडे सीरीज में टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे। वनडे सीरीज में उन्होंने 3 मैच में 105 की औसत से 210 रन बनाए थे। वहीं, टी-20 सीरीज के 2 मैच में 58 की औसत से 58 रन बना चुके हैं। वे पहले टी-20 में 16 रन बनाए थे। वहीं दूसरे मैच में 22 बॉल पर 42 रन बनाकर नाबाद रहे।

दूसरे टी-20 में 2 छक्के लगाकर मैच जिताया

पंड्या ने दूसरे टी-20 में 20वें ओवर में 2 छक्के लगाकर मैच जिताया और भारत को 3 मैच की टी-20 सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त दिला दी। उन्होंने कहा, 'मुझे लगा कि 2 बड़े हिट्स मैच में जीत दिला देंगे। पिछले मैच में मैं अच्छा नहीं खेल पाया था। इस मैच से पहले मैंने कई चीज पहले से सोच रखी थी। मुझे खुशी है कि मैं वैसा प्रदर्शन कर पाया। मैं मैच जल्दी खत्म करना चाहता था।'



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पंड्या दूसरे टी-20 मैच में 22 बॉल पर 42 रन बनाकर नाबाद रहे। 


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2VGf49o
https://ift.tt/2L90jtz

No comments: