35 हजार दर्शक क्षमता होगी, अभी लखनऊ में करते हैं इंटरनेशनल मैचों की मेजबानी

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (ACB) अब इंटरनेशनल मैचों की मेजबानी करने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए उसने देश में पहला इंटरनेशनल स्टेडियम बनाने की पूरी तैयारी कर ली। राष्ट्रपति मोहम्मद अशरफ गनी ने राजधानी काबुल में 12000 स्क्वेयर मीटर जमीन को मंजूरी भी दे दी।

अफगानिस्तान ने शुरुआती दिनों में UAE के शारजाह को होम ग्राउंड बनाया था। इसके बाद ACB ने भारत के देहरादून को होम ग्राउंड के तौर पर अपनाया। अफगानिस्तान बोर्ड ने 2019 में होम ग्राउंड को लखनऊ के इकाना क्रिकेट स्टेडियम में शिफ्ट कर लिया।

मस्जिद और स्वीमिंग पूल भी होगा
स्टेडियम की क्षमता 35 हजार दर्शकों की रहेगी। परिवार के लिए बैठने की व्यवस्था अलग से रहेगी। स्टेडियम में फाइव स्टार गेस्ट हाउस के साथ स्वीमिंग पूल, इंडोर और आउट डोर एकेडमी, हेल्थ क्लीनिक, कार पार्किंग, प्रशासनिक कार्यालय के साथ मस्जिद भी रहेगी।

स्टेडियम की मंजूरी से खुशी
ACB चेयरमैन फरहान युसुफजई ने कहा, ‘‘काबुल में स्टेडियम की मंजूरी से खुशी मिली है। अब अफगानिस्तान में ऐसी जगह (स्टेडियम) मिलने वाली है जहां फैंस अपने फेवरेट क्रिकेटर्स को खेलते देख सकेंगे। इसको लेकर मैं राष्ट्रपति को भी धन्यवाद देता हूं। वे हमेशा ही देश में क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए सपोर्ट करते रहे हैं।’’



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (ACB) ने स्टेडियम की यह फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3atoQnV
https://ift.tt/2WyhdUV

No comments: