पंड्या बोले- टेस्ट नहीं खेलूंगा, अब घर लौट रहा हूं; विराट ने कहा- हम चाहते हैं वे बॉलिंग भी करें

ऑस्ट्रेलिया के साथ टी-20 सीरीज में 2-1 से टीम इंडिया के जीत के हीरो रहे ऑल राउंडर हार्दिक पंड्या चार टेस्ट मैचों की सीरीज में नहीं खेलेंगे। वे इंडिया वापस लौट आएंगे। हार्दिक टी-20 सीरीज में मैन ऑफ सीरीज रहे। उन्हें ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टी-20 और वनडे टीम में ही शामिल किया गया था। टी-20 और वनडे में उनके बेहतर प्रदर्शन के बाद ऐसा माना जा रहा है कि उन्हें टेस्ट सीरीज के लिए रोका जा सकता है। हालांकि टीम कप्तान विराट कोहली का मानना है कि पंड्या के रेगुलर बॉलिंग करने के बाद ही टेस्ट में शामिल करने के लिए उनके नाम पर विचार किया जाएगा।

पंड्या ने पहले वनडे में 90, दूसरे में 28 और तीसरे में नाबाद 92 रन बनाए थे। वहीं तीन टी-20 मैचों की सीरीज में उन्होंने पहले टी-20 में 16, दूसरे में नाबाद 42 और तीसरे में 13 रन बनाए।

पंड्या बोले- परिवार के साथ ज्यादा समय बिताना चाहते हैं

पंड्या ने तीसरे टी-20 के बाद मंगलवार को कहा, “टीम मैनेजमेंट उन्हें इजाजत देगी तो वह दो दिन बाद इंडिया वापस लौट आएंगे। मैं घर जाकर ज्यादा समय अपने परिवार के साथ बिताना चाहता हूं। मैने पिछले चार महीने से अपने बच्चे को नहीं देखा है।”

पंड्या ने टेस्ट में वापसी पर पूछे गए सवाल पर कहा- “भविष्य में ऐसा हो सकता है, लेकिन मैं यह नहीं कह सकता हूं कि भविष्य में ऐसा हो गया या नहीं।” हार्दिक ने 17 दिसंबर से शुरु हो रहे टेस्ट सीरीज को लेकर पूछे गए सवाल पर हाल ही में कहा था,” यह अलग खेल है। मैं सोचता हूं कि मुझे इसमें होना चाहिए। हालांकि इसका निर्णय टीम मैनेजमेंट को लेना है।”

टी-20 में मैन ऑफ द सीरीज रहने से पंड्या खुश

पंड्या ने मैन ऑफ द सीरीज मिलने पर कहा कि मैन ऑफ द सीरीज मिलने से खुश हैं। लेकिन सीरीज जीतने के लिए पूरी टीम ने प्रयास किया। उन्होंने कहा,’दूसरे वनडे के बाद हमने यह निर्णय लिया था कि वनडे सीरीज के बचे हुए एक मैच सहित टी-20 सीरीज के तीनों मैच जीतना है। हम चार मैचाें में से तीन मैच जीतने में सफल हुए हैं। इससे मैं खुश हूं।”

पंड्या को लेकर क्या बोले कप्तान विराट

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने पंड्या के टेस्ट वापसी को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने अपनी प्राथमिकता को स्पष्ट करते हुए कहा कि हार्दिक अभी बॉलिंग करने में सक्षम नहीं हैं। टेस्ट क्रिकेट में अलग तरह की चुनौती हैं। हमने इसके बारे में बात की है। वह ऐसे खिलाड़ी हैं जो विदेशी धरती जैसे साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड आदि जगहों पर भी बॉलिंग से संतुलन बनाए रख सकते हैं। वह हर फॉर्मेट में बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। वे टीम के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। टेस्ट क्रिकेट में हमें बेहतर फिनिशर मिलें हैं। हम चाहते हैं कि पंड्या रेगुलर बॉलिंग फिर से करें। ताकि टेस्ट में हमें उनके रूप में बेहतर विकल्प मिल सके।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
हार्दिक पंड्या को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन टी-20 मैचों की सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज रहे। उन्होंने पहले टी-20 में 16, दूसरे में नाबाद 42 और तीसरे में 13 रन बनाए।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3n10xkv
https://ift.tt/2VWXzBC

No comments: