PSG और इस्तांबुल ​​​​​​​बासाकसेहिर के मैच के दौरान नस्लवादी टिप्पणी, खिलाड़ियों ने छोड़ा मैदान, मुकाबला स्थगित

पेरिस सेंट जर्मेन और इस्तांबुल बासाकसेहिर के बीच UEFA चैम्पियंस लीग के मैच को नस्लवाद की वजह से सस्पेंड कर दिया गया। मंगलवार देर रात को हुए मैच में बासाकसेहिर के असिस्टेंट कोच पियरे वेबो ने एक मैच ऑफिशियल सेबास्टियन कोल्टेसक्यू पर उनके खिलाफ नस्लवादी टिप्पणी करने का आरोप लगाया। इसके बाद दोनों टीमों ने कोच के समर्थन में फील्ड से वॉक ऑफ कर गए।

असिस्टेंट कोच पियरे वेबो को दिखाया गया रेड कार्ड

दरअसल मैच के दौरान असिस्टेंट कोच पियरे को रोमानिया के रेफरी ओविडियू हेटगन ने रेड कार्ड दिखाया। पियरे का आरोप था कि मैच के चौथे आफिशियल सेबास्टियन ने उन्हें नस्लवादी शब्द से बुलाया। पियरे इसी का विरोध करने ग्राउंड पर आ गए थे। रेड कार्ड के बाद वे मैदान से बाहर चले गए।

मैच के चौथे ऑफिशियल सेबास्टियन ने की नस्लवादी टिप्पणी

मैच प्रसारण के दौरान टेलिविजन फुटेज ने भी इस विवाद को रिकॉर्ड किया। टीवी फुटेज में सेबास्टियन मुख्य रेफरी हेटगन को असिस्टेंट कोच पियरे को रेड कार्ड दिखाने बोलते हुए सुने गए। फुटेज में सेबास्टियन मुख्य रेफरी से कहा, 'जाओ और उस काले इंसान को रेड कार्ड दिखाओ (Go and give it to the Black one)। ये सहने लायक नहीं है। जाओ और उस काले इंसान को वेरिफाई करो।'

कई खिलाड़ियों ने मैच ऑफिशियल से स्पष्टीकरण मांगा

वीडियो फुटेज में इस कमेंट के बाद बासाकसाहिर के असिस्टेंट कोच पियरे ने इस पर नाराजगी जताते हुए छह बार कहा, 'तुमने नीग्रो क्यो कहा'। वे सेबास्टियन से स्पष्टीकरण मांगते हुए भी दिखाई पड़े। इसके बाद बासाकसाहिर के एक सब्सटिट्यूट प्लेयर डेंबा बा बेंच से उठकर आए और उन्होंने मैच ऑफिशियल से इस बारे में स्पष्टीकरण मांगा।

नेमार और एम्बाप्पे ने भी UEFA से की अपील

वहीं, PSG के सीनियर प्लेयर नेमार और किलियन एम्बाप्पे ने भी UEFA से इस बारे में स्पष्टीकरण मांगा। खिलाड़ियों द्वारा मैदान से वॉक ऑफ करने के बाद UEFA ने इसे बुधवार को कराने का ऐलान किया। UEFA ने कहा कि बाकी बचे मैच को बुधवार को वहीं से शुरू किया जाएगा, जहां पर ये रोका गया था। हालांकि इस दौरान मैच में चौथे ऑफिशियल को बदला जाएगा। मैच सस्पेंड होने तक दोनों टीमें 0-0 पर थीं।

UEFA अध्यक्ष ने दिए जांच के आदेश

UEFA के अध्यक्ष माइकल प्लेटिनी ने भी इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। UEFA ने कहा कि इस संबंध में आंतरिक जांच की जाएगी और इसके बाद सजा को लेकर फैसला किया जाएगा। वहीं तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयब एर्दोगन ने भी UEFA से मामले की जांच कर जरूर कदम उठाने के लिए कहा है। बासाकसेहिर ने सोशल मीडिया पर UEFA के नो टू रेसिज्म बैनर को भी शेयर किया। इसे PSG ने भी बाद में शेयर किया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
UEFA ने PSG और इस्तांबुल ​​​​​​​बासाकसेहिर के मैच को बुधवार को कराने का ऐलान किया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Lk9gjY
https://ift.tt/33WAaor

No comments: