सीरीज में 3 ही टेस्ट खेलने का सोच रहा बोर्ड, सिडनी टेस्ट दौरे का आखिरी मैच हो सकता है

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI)ने क्वींसलैंड के शेडो हेल्थ मिनिस्टर रॉस बैट्स और शेडो स्पोर्ट्स मिनिस्टर टिम मैंडर के बयानों पर नाराजगी जाहिर की है। इन मिनिस्टर्स ने कहा था कि प्रोटोकॉल नियमों की पालन नहीं करने पर टीम इंडिया को इंट्री नहीं करने देगी। अगर टीम इंडिया नियमों का पालन नहीं करना चाहती है, तो वह न आए। BCCI ने कहा कि इस तरह के बयान भारतीय छवि को खराब करते हैं।

दरअसल, ऑस्ट्रेलिया के राज्यों में विपक्ष के भी मंत्री होते हैं जो सरकार के मंत्रियों के कामकाज पर नजर रखते हैं। इन्हें विपक्ष का नेता अपॉइंट करता है। यानी विपक्षी द्वारा तय किए गए मंत्रियों को शेडो मिनिस्टर कहा जाता है।

हाल ही में एक रिपोर्ट के मुताबिक टीम इंडिया सख्त कोरोना प्रोटोकोल के कारण ब्रिस्बेन मैच को सिडनी में शिफ्ट कराना चाहती है। इस खबर के बाद दोनों मंत्रियों की तरफ से बयान आए थे। हालांकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ निक हॉकले ने यह स्पष्ट किया है कि BCCI की ओर से ब्रिस्बेन मैच को शिफ्ट करने को लेकर लिखित मांग हमारे पास नहीं आई है। चौथा टेस्ट मैच ब्रिस्बेन में अपने शेड्यूल के अनुसार ही होगा। तीसरा टेस्ट मैच 7 जनवरी से सिडनी में होना है। जबकि चौथा टेस्ट मैच 15 अगस्त से ब्रिस्बेन में खेला जाना है।

टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में प्रोटोकॉल का पालन कर रही है

BCCI के एक अधिकारी ने न्यूज एजेंसी से कहा कि अगर जनप्रतिनिधि हीं नहीं चाहते हैं कि टीम इंडिया जाकर वहां खेले तो यह निराशाजनक है। टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कर रही है। ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद भारतीय खिलाड़ियों ने14 दिन क्वारैंटाइन पूरा किया। वहीं बाद में ऑस्ट्रेलिया पहुंचे रोहित शर्मा ने भी 14 दिन क्वारैंटाइन पर रहे। ऐसे में यह बयान की टीम इंडिया नियमों का पालन नहीं कर रही है। यह निराशाजनक है। ऐसे बयान को किसी भी प्रकार से स्वीकार नहीं किया जाएगा।

क्वींसलैंड सरकार के मंत्रियों के बयान भारतीय छवि के खिलाफ
वहीं तीन ही टेस्ट सीरीज के सवाल पर अधिकारी ने कहा- क्वींसलैंड सरकार के मंत्रियों के बयान भारतीय छवि के खिलाफ है। यही कारण है कि BCCI अगर 3 ही टेस्ट की सीरीज के बारे में सोच रही है तो यह चौंकाने वाली बात नहीं है।
बेट्स ने फॉक्स स्पोर्ट्स से कहा - टीम इंडिया नियमों का पालन करे, तभी आए
हालांकि इससे पहले रविवार को बेट्स फॉक्स स्पोर्ट्स से बातचीत में कहा था कि क्वींसलैंड गवर्नमेंट प्रोटोकॉल नियमों की पालन नहीं करने पर टीम इंडिया को इंट्री नहीं करने देगी। अगर टीम इंडिया नियमों का पालन नहीं करना चाहती है, तो वह न आए।
मैंडर ने कहा था- किसी के लिए नियमों में बदलाव नहीं किए जा सकते हैं
वहीं, मैंडर ने कहा कि किसी के लिए भी नियम में बदलाव नहीं किया जा सकता है। सभी को नियमों का पालन करना होगा। अगर टीम इंडिया क्वारैंटाइन नियमों का पालन नहीं करना चाहती है, तो उसे नहीं आना चाहिए।

सिडनी-ब्रिस्बेन में रूम से निकलने की अनुमति नहीं होगी
टीम सूत्रों ने खुलासा किया है कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) की मेडिकल टीम ने पिछले हफ्ते सख्त निर्देश दिए थे कि उन्हें होटल रूम से निकलने की अनुमति नहीं मिलेगी। खासकर सिडनी और ब्रिस्बेन टेस्ट के दौरान। भारतीय खिलाड़ियों ने उनकी यह बात स्वीकार भी कर ली थी। हालांकि टीम मैनेजमेंट ने तुरंत ही मेडिकल टीम से कह दिया था कि यह स्थिति उन्हें स्वीकार करने में मुश्किल होगी।

रोहित समेत 5 खिलाड़ियों पर नियम तोड़ने की जांच चल रही
रोहित शर्मा, शुभमन गिल, पृथ्वी शॉ, ऋषभ पंत और नवदीप सैनी पर बायो-बबल तोड़ने का आरोप लगा है और जांच चल रही है। एक जनवरी को एक वीडियो और कुछ फोटो वायरल हुए थे, जिसमें पांचों खिलाड़ी एक होटल के अंदर बैठकर खाना खाते दिख रहे। इसके बाद इन सभी पर नियम तोड़ने का आरोप लगा और सभी को आइसोलेट किया गया। हालांकि, पांचों खिलाड़ी टीम के साथ सिडनी पहुंचेंगे। वहीं सभी खिलाड़ियों का कोरोना टेस्ट निगेटिव आया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
चार टेस्ट मैचाें की सीरीज में टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया1-1 की बराबरी पर है। ऑस्ट्रेलिया ने एडिलेड टेस्ट तो भारत ने मेलबर्न टेस्ट में जीत हासिल की है। तीसरा टेस्ट मैच सिडनी में 7 जनवरी से है और चौथा टेस्ट मैच 15 जनवरी से ब्रिस्बेन में है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2X4OQhw
https://ift.tt/3rRm2qU

No comments: